UPSC“यु.पी.एस.सी” की तैयारी कैसे करे?,आइये जानते है, (UPSC‌) संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी |

UPSC“यु.पी.एस.सी” संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी

छात्र स्नातक स्तर की पढ़ाई करते वक्त या फिर स्नातक की परीक्षा सफलता पूर्वक पुरा करने के बाद विविध प्रकार के रोजगार संबंधी विकल्प की तलाश करते है, तथा रोजगार संबंधी जानकारी खोजने मे जूट जाते है।

उपलब्ध अनेक विकल्प मे से चयन करना हो तो अधिकतर छात्र या तो स्नातक से जुडे शिक्षा पर आधारित क्षेत्र मे रोजगार की तलाश करते है। या फिर जिस राज्य के वो निवासी होते है वहा के सरकारी विभाग से जुडी विविध तरह की प्रतियोगिता परीक्षा के लिये तैयारी करने मे जूट जाते है जिनसे इन तरह की परीक्षा मे सफल होने के बाद उनको राज्य सरकार की विविध विभागो मे नौकरी करने का अवसर प्राप्त हो जाता है।

भारत के अधिकतर राज्य इस तरह की प्रतियोगिता परीक्षाओ का आयोजन करते है, जिसमे सालाना हजारो की संख्या मे छात्र शामिल होते है। तथा योग्यतानुसार चयनीत होते है, पर इस तरह की परीक्षा का आयोजन मात्र राज्य सरकार ही नही, तो भारत सरकारद्वारा भी हर साल किया जाता है।

इस महत्वपूर्ण लेख मे आज आप भारत सरकार द्वारा हर साल आयोजित की जानी वाली और सबसे प्रतिष्ठित मानी जानी वाली प्रतियोगिता परीक्षा के बारे मे जानकारी हासिल कर पायेंगे। युनिअन पब्लिक सर्विस कमिशन यानी की ‘UPSC’ IAS नामक इस परीक्षा से जुडे सभी तथ्यो से हम यहा आपको रूबरू कारायेंगे, हमे पुरा विश्वास है ये जानकारी आपके लिये काफी महत्वपूर्ण होगी, तथा आप के बहूत सारे सवालो को यहा जवाब भी मिल पायेंगे।

UPSC“यु.पी.एस.सी” की तैयारी कैसे करे?,आइये जानते है, (UPSC‌) संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी
UPSC“यु.पी.एस.सी” की तैयारी कैसे करे?,

यह भी पढ़े :- IAS Officer कैसे बने ? आइये जानते है,

यह भी पढ़े :- IPS Officer कैसे बने ?, आइये जानते है, आईपीएस ( IPS) बनने पूरी जानकारी

“यु.पी.एस.सी” संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी – UPSC Information in Hindi

UPSC Information in Hindi

  • ‘UPSC’ संबधी महत्वपूर्ण तथ्य – Important Facts for UPSC
  • आयोगद्वारा भरे जाने वाले पद
  • पात्रता के मानदंड
  • आरक्षणसंबंधी महत्वपूर्ण जानकारी
  • परीक्षा का स्वरूप एवं परीक्षामे अंतर्निहित स्तर
  • पाठ्यक्रम संबंधी मुलभूत जानकारी
  • परीक्षा की तैयारी हेतू आवश्यक किताबोकी जानकारी
  • इस परीक्षा की तैयारी करने हेतू जानकारी
  • चयनित छात्रों  के प्रशिक्षण संबधित जानकारी
  • कुछ महत्वपूर्ण सुझाव

यु.पी.एस.सी क्या है?

  1. युपीएससी भारत का एक स्वतंत्र या स्वायत्त आयोग है, जो देश भर के लगभग सभी सरकारी विभाग के प्रमुख और उच्च स्तर के कर्मचारीयो का चयन करने हेतू प्रतियोगिता परीक्षा का हर साल आयोजन करती है। जिसमे पुरे भारत के सभी स्नातक या अंतिम स्नातक वर्ष के छात्र हिस्सा ले सकते है।
  2. मुख्यतः सरकारी विभाग के वर्ग १ और वर्ग २ के कर्मचारी इस प्रतियोगिता परीक्षा द्वारा चयनित किये जाते है, जिनको सफलतापूर्वक चयन और प्रशिक्षण होने के बाद पुरे भारत मे विविध विभाग मे तथा विविध राज्यो मे सरकारी विभागोमे शामिल करवाया जाता है।
  3. पुरे भारत वर्ष मे इस परीक्षा का आयोजन एक तय दिन पर होता है, जिसमे विविध राज्यो के छात्र उनके ही राज्य के परीक्षा केंद्र का चयन कर, इस प्रतियोगिता परीक्षा मे शामिल हो सकते है।
  4. चयन प्रक्रिया द्वारा चुने जानेवाले कर्मचारी स्तर के बारेमे जानकारी:
  5. भारतीय पोलीस सेवा, भारतीय प्रशासन सेवा, भारतीय राजस्व सेवा, भारत सरकारकी विदेश राजदूत सेवा के उच्च स्तर के कर्मचारीयो का चयन मुख्यतः यु पी एस सी के प्रतियोगिता परीक्षा द्वारा होता है।
  6. इसी आयोग के अंतर्गत भारतीय वन्य विभाग सेवा, भारतीय डाक विभाग के उच्च स्तर अधिकारी तथा कुछ महत्वपूर्ण सुरक्षा विभाग के कर्मचारीयो का चयन होता है, जिसमे राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी और राष्ट्रीय नौसेना अकादमी इत्यादी से जुडे उच्च स्तर के चयन शामिल है।

परीक्षा के लिये आवश्यक पात्रता – Eligibility for UPSC

इस परीक्षा के लिये कुछ मुलभूत तथ्यो के आधार पर आवश्यक पात्रता होती है,

  • नागरिकत्व:  छात्र भारत का नागरिक होना चाहिये तथा उसके पास नागरिकता संबधी आवश्यक दस्तावेज होने चाहिये, इसके अलावा कुछ विशेष पदो के चयन हेतू नेपाल,भूतान तथा तिबेट के नागरिक भी इस परीक्षा हेतू पात्र व्यक्ती माने जाते है।
  • उम्र: इस प्रतियोगिता परीक्षा मे शामिल तथा चयन हेतू छात्र की कमसे कम उम्र २१ साल तथा ज्यादा से ज्यादा ३२ साल तक होनी चाहिये, पर भारतीय संविधान के तौर पर दीया जाने वाला आरक्षण यहा लागू होता है,जो सरकारी नियमो अनुसार छात्रों को उनके जाती वर्ग अनुसार दिया जाता है।
  • शिक्षा संबंधी पात्रता: अंतिम वर्ष के स्नातक तथा सफलता पूर्वक स्नातक परीक्षा पुरा किये हुये छात्र इस परीक्षा मे शामिल हो सकते है,तथा अंतिम समय पर स्नातक परीक्षा पुरी किये हुये छात्र ही चयन हेतू योग्य माने जाते है। मतलब इस प्रतियोगिता द्वारा चयन हेतू स्नातक स्तर ही आयोग द्वारा मान्य होता है।
  • आरक्षण: आयोग द्वारा भारत शासन के सभी तथ्यो के आधार पर दिया जाने वाला आरक्षण यहा लागू होता है। तथा महिलावर्ग को यहा ३३.३% आरक्षण निर्धारित हुआ है

UPSC“यु.पी.एस.सी” प्रतियोगिता परीक्षा का स्वरूप – Nature of competition exam

ये परीक्षा 3 प्रमुख चरणो मे ली जाती है जिसमे पूर्व परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार शामिल है।

पूर्व परीक्षा: ये प्रतियोगिता का पहला चरण होता हैं, जो के वस्तुनिष्ठ लिखित स्वरूप का होता है जिसमे चार विकल्प मे से एक सही विकल्प चूनना होता है। इसमे दो अलग विषयो पर इम्तेहान लिया जाता है जैसे के,

  • सामान्य अध्ययन (General Studies)- 100 प्रश्न
  • नागरी सेवा योग्यता परीक्षा(CSAT) – 80 प्रश्न

प्राथमिक अहर्ता हेतू पूर्व परीक्षा ली जाती है, जिसमे पात्र छात्र मुख्य परीक्षा के लिये पात्र माने जाते है

  1. मुख्य परीक्षा: पूर्व परीक्षा द्वारा पात्र छात्र प्रतियोगिता के दुसरे चरण यानी मुख्य परीक्षा के लिये चयन होते है। यहा 9 प्रकार के पेपर छात्र को देने पडते है जिसमे से २ प्रकार के पेपर अहर्ता हेतू लिये जाते है जैसे के,
  2. पेपर A :- इसमे छात्र को भारतीय संविधान मे मान्य तथा दी गई हुई भाषाओमेसे कोई भी एक भाषा चुनकर उसपर 300 अंक का पेपर देना होता है।
  3. पेपर B: दुसरा पेपर इंग्लिश विषय होता है जो के 300 अंक का होता है।
  4. ये दोनो पेपर छात्र को आयोग द्वारा दिये गये गुणो के निष्कर्ष के आधार पर सफलता पूर्वक पुरे करने होते है, इसलिये इन्हे अहर्ता विषयक पेपर भी कहा जाता है।

अन्य 7 पेपर के विषय मे जानकारी

  • पेपर 1 – निबंध पेपर (Essay Writing)- (250 अंक)
  • पेपर 2 – समान्य अध्ययन 1 – इसमे भारतीय इतिहास, भूगोल, दुनिया का भूगोल तथा इतिहास और सामाज शास्त्र शामिल होते है। – (250 अंक)
  • पेपर 3 – सामान्य अध्ययन 2 – इसमे भारतीय संविधान, शासन व्यवस्था, राज्यशास्त्र, विदेश संबध और सामाजिक न्याय जैसे विषय शामिल होते है। (250 अंक)
  • पेपर 4 – सामान्य अध्ययन 4 – इसमे मुख्यतः आपतकालीन सुरक्षा, भारतीय अर्थव्यवस्था, जैव विविधता, सुरक्षा तथा तंत्रग्यान जैसे विषय शामिल होते है।
  • पेपर 5- सामान्य अध्ययन 4 – इस पेपर मे नैतिकता शास्त्र, योग्यता, सार्वभौमता जैसे विषय शामिल होते है।
  • अन्य बचे 2 पेपर वैकल्पिक होते है ,जो के आयोग द्वारा दी गई सूची से छात्रों को अपने रुची अनुसार चुनने होते है। ये दोनो पेपर भी 250 अंक के होते है, इस तरह मुख्य परीक्षा 1750 अंक की होती है।

साक्षात्कार: इसके बाद का चरण जो की साक्षात्कार होता है जिसको 275 होते है ,जो अंत मे मुख्य परीक्षा मे  सफल छात्रों के मुख्य परीक्षा के अंक से जोडकर दिये जाते है। इस तरह 2025 अंको के ये दो चरण होते है। जो छात्र साक्षात्कार मे सफल रहता है केवल वही अंतिमतः चयनित किया जाता है।

पूर्व परीक्षा का पाठ्यक्रम UPSC Exam Syllabus

1. पेपर 1 – सामान्य अध्ययन

इस पेपर मे सामाजिक जागृती, भारतीय इतिहास, भूगोल, संस्कृती, सामान्य ग्यान, अर्थशास्त्र, देश विदेश संबंधी घटनाए और उसके भारत पर प्रभाव इत्यादी मुद्दो से जुडे सवाल पुछे जाते है।

2. पेपर 2 – CSAT

इसमे अंग्रेजी भाषा संबधित सवाल जैसे के समझना, समान अर्थ के शब्द, विरुध्द अर्थ के शब्द, व्याकरण, शब्दावली इसके साथ तर्क शास्त्र, समस्या सुलझाने संबधी पात्रता, विश्लेषनात्मक कौशल्य जैसे मुद्दो पर सवाल पुछे जाते है।

मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम

  1. उपर दिये हुये मुख्य परीक्षा के जानकारी मे मुख्य परीक्षा का पाठ्यक्रम और अंक भी शामिल है, आप वहा से अधिक जानकारी हासिल कर सकते है।
  2. कैसे करे युपीएससी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी ?
  3. रोजाना कम से कम 5 घंटे पढाई करने की आदत आपको डालनी होगी, जिसमे रोज के अखबार का भी नित्य पढना शामिल है। साथ साथ आपको खुद्के नोट्स बनाने की आदत काफी मददगार साबित हो सकता है।
  4. हमेशा अच्छे और सही जानकारी देने वाले स्त्रोतो से जानकारी लेकर पढना चाहिये, इसके अलावा आयोग द्वारा सुझाव दी गई किताबे अवश्य पढनी चाहिये।

कौनसे किताब पढे ?

वैसे तो इस प्रतियोगिता परीक्षा हेतू कोई तय किताब नही ,फिर भी आयोग द्वारा सुझाव दिये गये किताब आपको अवश्य पढना चाहिये, इसके अलावा कुछ मार्गदर्शक व्यक्तियो द्वारा सूचित किताबे भी पढना आपके लिये फायदेमंद हो सकता है

चयनित छात्रों के प्रशिक्षण संबधी जानकारी

सभी चयन किये गये छात्रों को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन प्रशिक्षण अकादमी, उत्तराखंड मे प्रशिक्षण दिया जाता है, इसके अलावा पुलिस सेवा के छात्रों को हैद्राबाद के पुलिस अकादमी मे प्रशिक्षित किया जाता है।

महत्वपूर्ण सुझाव

1. हमेशा आपके दोस्त वगैराह से इस परीक्षा की तैयारी हेतू चर्चा करते रहिये ,खास कर उनसे जो इस परीक्षा के लिये तैयारी कर रहे है।

2. रोजाना अखबार पढने की आदत डालिये

3. अखबार से महत्वपूर्ण घटनाओ पर नोट्स बनाये

4. सभी प्रतियोगिता परीक्षा के महत्वपूर्ण स्त्रोतो से जानकारी जरूर हासिल करते रहिये।

धन्यवाद

Give a Comment